African Village Grass Huts_Vit Hassan_Flickr Vit Hassan/Flickr

बिल गेट्स ने इसे ग़लत क्यों समझा

नीना मुंक की त्रुटियों से भरी और पुरानी पड़ चुकी पुस्तक की अपनी समीक्षा में, बिल गेट्स ने अजीब तरह से आकलन और मूल्यांकन करके अपने उस पारखी दृष्टिकोण को त्याग दिया है जो उनकी फ़ाउंडेशन के अमूल्य कार्य को परिभाषित करता है। वे बस मुंक के इस दावे को स्वीकार कर लेते हैं कि 20 से ज़्यादा अफ़्रीकी देशों में चल रही विकास परियोजना - मिलेनियम ग्राम परियोजना - विफल रही है। जबकि यह वास्तव में फल-फूल रही है।

यह भोलापन भ्रम पैदा करने वाला है। मुंक की किताब में दस साल की परियोजना के केवल पहले आधे भाग के एक हिस्से, और 12 में से केवल दो गाँवों को शामिल किया गया है। और वे कभी भी "मिलेनियम गाँवों में लंबी अवधि के लिए नहीं रहीं।" मुंक ने वास्तव में गाँव में विज़िट करने में औसतन प्रति वर्ष लगभग छह दिन - छह साल में लगभग 36 दिन - बिताए हैं, और ये आम तौर से 2-3 दिन के लिए होते थे। इसके अलावा, वे वैनिटी फ़ेयर पत्रिका के लिए पत्रकार के रूप में कहानी तैयार करने के लिए आई थीं, और उनके पास सार्वजनिक स्वास्थ्य, कृषि विज्ञान, अर्थशास्त्र, या अफ़्रीकी विकास के बारे में कोई प्रशिक्षण या अनुभव नहीं था।

इससे भी बदतर बात यह है कि मुंक की टिप्पणियाँ अकसर, कम नहीं बल्कि बहुत ज़्यादा, वर्णनात्मक प्रभाव पैदा करने के लिए बहुत बढ़ा-चढ़ाकर की गई हैं। क्या बिल गेट्स वास्तव में मानते हैं कि मैंने इस बात की चिंता किए बिना विशिष्ट फसलों की वकालत की थी कि उनके लिए बाज़ार है या नहीं, या यह कि मैं सरकार के नेताओं को दी जाने वाली अपनी लगातार सलाहों में राष्ट्रीय कराधान पर विचार करने में विफल रहा? इसके अलावा, MVP में कृषि संबंधी रणनीतियों और विकल्पों का नेतृत्व अफ़्रीकी कृषिशास्त्री कर रहे हैं, जिनमें से कुछ अफ़्रीका में सर्वोत्तम हैं - जो अकसर अफ़्रीका में हरित क्रांति के लिए गठबंधन (AGRA) में बिल के खुद के कृषि कर्मचारियों के साथ मिलकर काम करते हैं।

To continue reading, register now.

As a registered user, you can enjoy more PS content every month – for free.

Register

or

Subscribe now for unlimited access to everything PS has to offer.

https://prosyn.org/ZaXpttZhi