Climate change kenya community tree planting P. Kimeli (CCAFS)/Flickr

जलवायु परिवर्तन का क्षेत्रवार मुकाबला करना

LONDON – संयुक्त राज्य अमेरिका के यूरोपीय संघ के साथ मिलकर जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन (यूएनएफसीसीसी) को ग्रीन हाउस गैस (जीएचजी) के उत्सर्जनों को कम करने की अपनी योजना औपचारिक रूप से प्रस्तुत किए जाने के फलस्वरूप जलवायु परिवर्तन के बारे में कार्रवाई करने के लिए एक नया वैश्विक समझौता आकार ले रहा है। अमेरिका ने जलवायु के बारे में कार्रवाई को ठोस रूप देने के लिए इस तरह की प्रतिबद्धता करनेवाले देशों में आगे आनेवाले सबसे पहले देशों में शामिल होकर एक मजबूत संकेत भेजा है। आने वाले दिनों में, चीन और भारत सहित कई अन्य देशों के इन योजनाओं में अपनी योजनाएँ जोड़ने की उम्मीद की जा रही है।

ये योजनाएँ, (जिन्हें "इच्छित राष्ट्रीय रूप से निर्धारित योगदान," या "INDC" के रूप में जाना जाता है) एक समृद्ध, कम कार्बन वाले भविष्य में निवेश करने के लिए एक सामूहिक वैश्विक प्रयास का प्रतिनिधित्व करेंगी।

और आज, हम जलवायु समूह के राज्यों और क्षेत्र एलायंस के सह-अध्यक्षों के रूप में, राष्ट्रीय सरकार अग्रणियों को इस प्रयास में महत्वाकांक्षी जलवायु योजनाओं में शामिल होने के लिए आह्वान कर रहे हैं। हम अपने राष्ट्रीय अग्रणियों से यह अनुरोध इसलिए कर रहे हैं क्योंकि हम मानते हैं कि यह सही है, और क्योंकि हम जानते हैं कि यह संभव है।

We hope you're enjoying Project Syndicate.

To continue reading, subscribe now.

Subscribe

or

Register for FREE to access two premium articles per month.

Register

https://prosyn.org/KWljQawhi